HomeUncategorized+40 Heart touching 2 line sad status in Hindi

+40 Heart touching 2 line sad status in Hindi

बस ताल्लुकात ही ना रहे तुझसे ,

मोहब्बत तो तुझसे आज भी करते है

Bas taallukaat hee naa rahe tujhase ,
mohabbat to tujhase aaj bhee karate hai !

कुछ लोग जाहिर नहीं करते है,

लेकिन परवाह बहुत करते है 

kuchh log jaahir naheen karate hai, 
lekin paravaah bahut karate hai 




यादें रह जाते है याद करने के लिए ,

और वक़्त सब लेकर गुजर जाता है ,

yaaden rah jaate hai yaad karane ke lie ,
 aur vaqt sab lekar gujar jaataa hai !!

लोगों के चेहरे मत जाना ,

चेहरे से बड़ा कोई नकाब नहीं होता है 

logon ke chehare mat jaanaa , 
chehare se badaa koii nakaab naheen hotaa hai 

कुछ रिश्ते बहुत रूहानी होते है ,

अपनेपन का शोर नहीं मचाया करते है !!

kuchh rishte bahut roohaanee hote hai , 
apanepan kaa shor naheen machaayaa karate hai !




उनके जाने की गुजारिश, हमारी रोकने की जिद्द ,

इस बिच की वो ख़ामोशी इश्क़ है !!

unake jaane kee gujaarish, hamaaree rokane kee jidd ,
 is bich kee vo khaamoshee ishq hai !

याद बनकर जो तू मेरे साथ रहती है ,

तेरे इस एहसान का सौ बार शुक्रिया !!

yaad banakar jo too mere saath rahatee hai , 
tere is ehasaan kaa sau baar shukriyaa

रात को कह दो कि ज़रा धीरे से गुजरे ,

काफी मिन्नतों के बाद आज दर्द सो रहा है !

raat ko kah do ki zaraa dheere se gujare ,
 kaafee minnaton ke baad aaj dard so rahaa hai ,

किसी ने क्या खूब कहा है , अकड़ तो सब में होती है,

झुकता वही है जिसे रिश्तों की फ़िक्र होती है


kisee ne kyaa khoob kahaa hai , akad to sab men hotee hai,

jhukataa vahee hai jise rishton kee phikr hotee hai !




जिसके नसीब मे हों ज़माने की ठोकरें,

उस बदनसीब से ना सहारों की बात कर।


jisake naseeb me hon zamaane kee ṭhokaren,
us badanaseeb se naa sahaaron kee baat kar.


बुला रहा है कौन मुझको उस तरफ,

मेरे लिए भी क्या कोई उदास बेक़रार है।


Bulaa rahaa hai kaun mujhako us taraf,
mere lie bhee kyaa koii udaas beqaraar hai.

वो तेरे खत तेरी तस्वीर और सूखे फूल,

उदास करती हैं मुझ को निशानियाँ तेरी।


Vo tere khat teree tasveer aur sookhe fool,
udaas karatee hain mujh ko nishaaniyaan teree.



जब चिराग हूँ दिन-रात जलता रहता हूँ,

थक गया हूँ मैं हवा से कहो बुझाए मुझे।


Ajab chiraag hoon din-raat jalataa rahataa hoon,

thak gayaa hoon main havaa se kaho bujhaa_e mujhe.




जब कभी फुर्सत मिले मेरे दिल का बोझ उतार दो,

मैं बहुत दिनों से उदास हूँ मुझे कोई शाम उधार दो।


Jab kabhee fursat mile mere dil kaa bojh utaar do,
main bahut dinon se udaas hoon mujhe koii shaam udhaar do.


लो अब जाने भी दो क्या करोगे दास्ताँ सुनकर,

ख़ामोशी तुम समझोगे नहीं और बयाँ हमसे होगा नहीं।


Chalo ab jaane bhee do kyaa karoge daastaan sunakar,

khaamoshee tum samajhoge naheen aur bayaan hamase hogaa naheen.




मिजाज को बस तल्खियाँ ही रास आईं,

हम ने कई बार मुस्कुरा कर देख लिया।


Mijaaj ko bas talkhiyaan hee raas aaiin,

ham ne ka_ii baar muskuraa kar dekh liyaa.



किसी ने पूछा इतना अच्छा कैसे लिख लेते हो,

मैंने कहा दिल तोड़ना पड़ता है, लफ़्ज़ों को जोड़ने से पहले


Kisee ne poochhaa itanaa achchhaa kaise likh lete ho,
mainne kahaa dil todnaa padtaa hai, laphazaon ko jodne se pahale


“तेरी मोहब्बत को कभी खेल नहीं समझा,

वरना खेल तो इतने खेले है मैंने कि कभी भी हारा नहीं”

“Teree mohabbat ko kabhee khel naheen samajhaa,

 varanaa khel to itane khele hai mainne ki kabhee bhee haaraa naheen”



नहीं फुरसत यकीन जनों हमें कुव्ह और

करने की तेरी बातें तेरी यादें बहुत मफ्स्रूफ़ रखती है


Naheen furasat yakeen janon hamen kuvh aur karane kee teree baaten teree yaaden bahut mafsrooph rakhatee hai

रोने से अगर मिलती चाहत इस ज़माने मैं तो

आज एक सहर होता मुझ से वफ़ा निभाने के लिए


rone se agar milatee chaahat is zamaane main to
aaj ek sahar hotaa mujh se vaphaa nibhaane ke lie

तेरी महेफिल से उठे थे किसी को खबर तक ना थी

बस तेरा मोड़ मोड़ कर देखना हमें बदनाम कर गया


teree mahefil se uṭhe the kisee ko khabar tak naa thee
bas teraa mod mod kar dekhanaa hamen badanaam kar gayaa

तुम मोहब्बत भी मौसम की तरह करते हो

कभी बरसते हो तो कभी एक बूंद के लिए तरसते हो


tum mohabbat bhee mausam kee tarah karate ho

kabhee barasate ho to kabhee ek boond ke lie tarasate ho



नसीब अच्छे ना हो तो खूबसूरती का किया फ़ायदा

दिलों के सहेजादे फकीर हुवा करते है


naseeb achchhe naa ho to khoobasooratee kaa kiyaa phaayadaa
dilon ke sahejaade fakeer huvaa karate hai



नींद तो दर्द के बिस्तर पे भी आ सकती है

उनकी आगोश में सर हो ये ज़रूरी तो नहीं


neend to dard ke bistar pe bhee aa sakatee hai
unakee aagosh men sar ho ye zarooree to naheen



किसको निभा ना सकू मैं ऐसा वादा नहीं करता

में बातें अपनी औकात से जायदा नहीं करता


kisako nibhaa naa sakoo main aisaa vaadaa naheen karataa

men baaten apanee aukaat se jaayadaa naheen karataa




तुम बहुत दिल नशीन थी,

पर जबसे किसी और की हो गयी हो, तबसे ज़हर लगती हो.


tum bahut dil nasheen thee,
par jabase kisee aur kee ho gayee ho, tabase zahar lagatee ho.

किस्मत और दिल की आपस में कभी नहीं बनती,

क्यूंकि जो दिल में होता है वो कभी किस्मत में नहीं होता है.


Kismat aur dil kee aapas men kabhee naheen banatee,
kyoonki jo dil men hotaa hai vo kabhee kismat men naheen hotaa hai.

तुमने कहा था आँख भर कर देख लिया करो मुझे,

पर अब आँख भर आती है और तुम नज़र नहीं आते हो.


Tumane kahaa thaa aankh bhar kar dekh liyaa karo mujhe, par ab aankh bhar aatee hai aur tum nazar naheen aate ho.




कभी बहुत थे हमारे भी चाहने वाले,

और एक दिन इश्क हुआ और हम लावारिश हो गए


Kabhee bahut the hamaare bhee chaahane vaale,

aur ek din ishk huaa aur ham laavaarish ho ga_e





कितना बुरा लगता है, जब बादल हो और बारिश ना हो,

जब आंखे हो और ख़्वाब ना हो, जब कोई अपना हो और कोई पास ना हो।


kitanaa buraa lagataa hai, jab baadal ho aur baarish naa ho,
jab aankhe ho aur khvaab naa ho, jab koii apanaa ho aur koii paas naa ho.




उदास होंठों पे मुस्कराहट के फूल आये तो जान लेना की

दिल के अंदर कोई उदास, बहुत उदासी में ढल रही है


Udaas honṭhon pe muskaraahaṭ ke fool aaye to jaan lenaa kee
dil ke andar koii udaas, bahut udaasee men ḍhal rahee hai
RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Most Popular

Recent Comments