50+ Heart touching Sad Shayari in hindi

Heart touching Shayari पर idealgoals लेकर आया है आपके लिए मन पासंदीदा / बेहतरीन Heart broken Shayari in Hindi, heart touching status in hindi, heart touching shayari in hindi for boy friend, hindi touching shayari with, broken heart shayari for boyfriend, heart touching lines in hindi, 2 line heart touching shayari, heart touching shayari in hindi for girlfriend.

 

Here are some Heart touching shayari / status in hindi which are listed below.

 

आपकी इज दिल्लगी में हम अपना दिल खो बेथे,क ल तक उस खुदा के था आज आपके हो बेथे..प्या र सुना तो था दीवाना कर देता है,आ ज खुद करके हम होस खो बैठे हैं..!

जाने क्यों लोग हमें आजमते हैं,कु छ पल साथ रहने के बाद दूर चले जाते हैं,सच ही कहते हैं लोग की सागर के मिलने के बाद लोग बारिश को भूल जाते हैं

मेरी तन्हाई की गवाह है उसकी याद नींद जब नहीं आती चली आती है उसके यादें .. साथ निभाने का वादा किया था उसने और, साथ निभा रही है उसके यादें

दिल के दर्द को छुपाना कितना मुश्किल है, टूट के फिर मुस्कुराना कितना मुश्किल है, किसी के साथ दूर तक जाओ फिर देखो, अकेले लौट के आना कितना मुश्किल है…

जिंदगी में 2 चिजे हमशा टूटने के लिए ही होती है, सांस या साथ, सांस टूटने से तो इंसान 1 ही बार मरता है, पर किसी का साथ टूटने से इंसान पलपल मरता में

दिल के सागर में लहरे ना करो, ख्वाब बैंकर नींद चुराया ना करो, बहोत चोट लगती है मेरे दिल को, तुम ख्वाबो में आ कर यू तड़पा ना करो….!

जब मैंने खुदा से पुछा ये तनहाई क्या होती हैँ तो खुदा ने मुझे मेरे प्यार से दूर कर दिया।

जल में जाएंगे मेरे अरमान भर जाएंगे मेरी आंखे, बिखरे दिल का वह दर्द ना जाने कैसे मैं सह पाउंगा, जुदाई से तेरी जीना मौत से बातर जीना, मेरा खुदा जाने क्या मैं तुझसे कभी वह कहूंगा।

दिल जल रहा है आग बनके, शमा जल रही है चिराग बांके, सोचा था प्यार से बात करेंगे आप से, पर बात रह गई दिल में फरियाद बांके… !

मुझे भुला कर सूना, तो तेरी आदत हो गई है सनम, किसी दिन हम सू गए, तो तुझे नींद से नफ़रत हो जाएगी…!

ऐ सनम और कितना मैं तेरा इंतज़ार करू… तू बेवफा नहीं फिरबी और कितना तेरा ऐताब करू… सितम मुझे पर हुए और तुम देखते रहे… तू ही बता कब तक मैं अकेले ही प्यार करू और दुनिया से लाडू…!

होठों ने मुस्कुराने से मन कर दिया, आंसुओ ने बेह जाने से मन कर दिया, एक बार जो दिल टूटा इस प्यार में तो फिर, इस दिल ने फिर दिल लगाने से मन कर दिया…

क्या पत्थर की दुनिया में अक्सर दिल टूट जया करता है। आंखे भी संभल कर बंद करना मेरे दोस्त पालको के बीच भी सपने टूट जाते हैं।

किस्मत का ये कैसा खेल है, सिर्फ़ दो बातो का मेल है, पहले हम रोते थे तब उन्हें याद करते थे, अब उन्हें याद करके रोते हैं।

जज्बात के खेल में मोहब्बत का सबूत ना मैंगो मुझसे… मैंने वह आंसू भी बहाए हैं जो मेरी आंखें में नहीं थे।

मोहब्बत कहते हैं मुजे कर के तो देखो, मौत से मिलवा ना दिया तो, मेरा नाम बदल देना…!

कबी एक लम्हा ऐसा भी आता है, जिसमे बिता हुआ कल नज़र आता है, बस याद रह जाती है याद करने के लिए और वक़्त सब कुछ लेके गुजर जाता है…

चाहते थे जिन्हे उनका दिल बदल गया समुंदर तो वही था, पर साहिल बदल गया कटल ऐसा हुआ किश्तो में मेरा कभी बदला खंजर, तो कभी कटे बदल गया…

क्यों बनाती हो ये रात के महल इक दिन ख़ुद खुद ही मिटाओगी… आज कहती हो शबन तुमसे प्यार है कल नाम तक भूल जाउगीउ न्हें ये लगता है हम उनपे मरते हैं,

हमको ये लगता है की वो हम पर मरते हैं दौर ज़िन्दगी का गुजर जाएगा यूं ही हमदम ना कौन कुछ पूछे हैं हमसे… ना हम कुछ कहते हैं।

सपना एक लेकिन मुश्किल हज़ार है, तनहाई और ग़म तो मेरे बचपन के यार है, अब तो ये दिल मौत के लिए भी तैय्यार है, क्यूंकी इस ज़िन्दगी में हम सिर्फ़ बेवफाओ से प्यार है।

मैंने क़िस्मत में की लकीरो पर ऐतबार करना छोड़ दिया। जब इंसान धोका दिया है तो क़िस्मत क्यों नहीं।

जिंदगी के रास्ते कैसे भी हो गुजर जाएंगे, एक दिन हम भी चुपके से मार जाएंगे, आज रहते हैं दोस्तो के दिल में याद बनेंगे, कल आंसु बनके आंखों से निकल जाएंगे।

कोई मिला ही नहीं हमसेह मारा बनकर ,वह मिलेभी  तो एक किनारा बनकर,ह र ख़्वाब हैं कांच कीता राह टुटे, एक याकिनहै  साथ सहारा बनकर।

मैंने सपनों को दूर होते देखा है, जो मिला है इस्तेमाल खोते देखा है, लोग कहते हैं हुल जल्दबाजी है, मैंने अकेले में उन्हे भी रोते देखा है।

सूरज से कहो रोशनी देना छोड दे, सितारों से कहो टिमटिमाना छोड़ दे। अगर तुम नहीं आ सकते तो, अपनी यादों से कहो हमें सतना छोड दे।

अकेला महसूस करो जब तनहाई में याद मेरी आए जब जुदाई में मैं तुम्हारे पास हूँ हर पल जब चाहे देख लेना अपनी परछाई में!

जब मैंने खुदा से पुछा येत नहाई क्या होती हैसे वाखु दा ने मुझे मेरे प्यारसे  दूर कर दिया,

याद उसी दिल मैं दबा के राखी थी, तस्वीर उसकी मन मैं छुपा के राखी थी, दूर उससे जकार बहुत दर्द मिला था, दर्द मैं ज़िन्दगी मैंने बसा के राखी थी,

बहुत ही नाज़ से चूमा उसे मेरे लबो को मरते वक़्त, कहने लगा की मंज़िल आखिरी है कहीं प्यार ना लग जाए.।!

खुदा ने आँख कितनी अजीब बनाई है, जब ये खुलती है तो दुनिया इसे रूला देता है, या जब बंद होती है, तो ये दुनिया को रूला जाती है…!

जाने दुनिया में ऐसा क्यों होता है… जो सब को ख़ुशी दे वही रोता है, उमर भर जो साथ ना दे सके वही ज़िन्दगी का पहला प्यार क्यों होता है।

जिस गुल की तमन्ना थी हम में ज़िन्दगी में, शायद वह गुल किसी गुलिस्ता में खेला नहीं, जैसे दोस्त की तमन्ना थी हम में ज़िन्दगी में, वैसा दोस्त हम में कभी आज तक मिला नहीं…!

कोई सीसा अगर टूटे तो वापस जुर नहीं सकता, मोहब्बत में फना हो कर दोबारा कौन बनता है। मेरी जान चलो फिर आज़मा लो तुम सभी अपने प्यारे को, तुम्हारे दर्द में देखो तुम्हारा कौन बनता है।

अफसोश होता है उस पल, जब अपनी पसंद कोई और चुरा लेता है… हम ख़्वाब देखते हैं और हक़ीक़त कोई और बना लेता है…!

तुम बेवफा होकर भी कितनी अच्छी लगती हो। भगवान की क़सम तुम वफ़ा होती तो किया होता…!

जज्बत के खेल में मुहब्बत का सबुत ना मैंगो हमसे हमने वो आंसु भी बहाये है जो मेरी आंखों में भी नहीं थे…

रब मेरे यार तक ये पैगाम पौचा दे… उसके दिल में ख़्याल मेरा भी जग दे… मस्त हो गया है वह अपनी दुनिया में… उसे मेरी भी जरा-सी याद दिला दे…!

कोई दर्द ही ना हो मुझे ऐसा बना दो, या रब मुझे आप बस अपने जैसा बना दो, मयूस होती हू जब वह तोते हैं दिल मेरा, मेरे देखने में एक पत्थर का दिल लगा दो…!

साथ चलते-चलते कुछ लोग छोड़ जाते हैं, आजमा के हमको दूर हो जाते हैं, क्या आप भी शामिल हो हम भीड में, जहाँ लोग अपना कहते हैं फिर भूल जाते हैं…!

कहा का इश्क? कहा की वफ़ा? कहाँ की मोहब्बत? अरे साहब वह लोग भी गुजर गए और वह दौर भी गुजर गया।

यारो की महफिल ऐसे सजायी जाति है, खोलने से पहले ही बोतल हिलाया जाती है, फिर आवाज़ लगाय जाती है, आ जाओ टूटे दिल वालो … याहा दर्द ए दिल की दावा पिलाई जाति है …!

आप सब को याद करते हो… बस भूल जाते हो एक हमी को… किसी ने सच ही कहा है… जिनके पास लाखो सितारे हो… वह क्या महसूस करेंगे एक तारे की कमी को…!

इतनी लंबी उमर ना मांग मेरे लिए ऐ सनम… कही ऐसा ना हो के तुम भी छोड़ दो और मौत भी ना आए.।!

हर एक मंज़र पर उदासी छाई है, चांद की रोशनी में भी कमी आई है, अकेले अच्छे थे हम अपने आशियाने में, जाने क्यों टूटकर आज फिर आपकी याद आई है!

यादो में आपकी तन्हा बैठे हैं, आपके बिना लबों की हसी गावा बैठे हैं, आपकी दुनिया में अँधेरा ना हो इस लिए, ख़ुद का दिल जला बैठे हैं…

रीत है जाने ये कैसे ज़माने की, साजा मिले हैं दिल लगाने की, न बसाना दिल मैं किसे को इतना, फिर दुआ मांगे जाने भूलने की…!

पल पल उसका साथ निभाते हम, एक रिश्ते पर दुनिया छोर जाते हम समंदर के बीच में पाहुचकर फ़रेब किया उसे कहते तो किनरे पर ही डूब जाते हम।

अक्सर सिगरेट पिटे वक़्त मेरी आंखे लाल हो जाती है और इल्ज़ाम बेचारी सिगरेट पर लगता है, कैसे बता दुनिया को कसूर सिगरेट का नहीं बाल्की हमारे चेहरे का है जो हमेश मुझे धुवे में नज़र आता है…

उसे चूहे अंधेरे में मेरी हथेली पर अपनी नाज़ुक उनगली से लिखा मुजे प्यार तुमसे जाने केसी बहुत थी के वह लफ़्ज़ मिटे भी नहीं या आज तक देखे भी नहीं…

 

idealgoals

Hi, I am Shishir Tiwari. I have been successfully Running my website Idealgoals since 2018. I have tried almost all the trending and latest inspiring stories, life-changing strategies, wishes, quotes, And knowledge to get success Which can improve all aspects of our life. I know what works and what does not! What I write on my blog is my practical experience. You can find all the legit information on Idealgoals that will help you to Reach your goals.

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button